ज्यादातर लोग नहीं जानते इन 7 चीजों को खाने का सबसे अच्छा और सबसे बुरा समय, क्लिक करके जाने

नमस्कार दोस्तों, कैसे हैं आप? आशा है अच्छे होंगे

एक बार फिर से स्वागत है आपका हमारी स्वास्थ्य श्रृंखला की इस नई पोस्ट पर

दोस्तों, जैसा कि आप जानते हैं कि हमारा शरीर विभिन्न खाद्य पदार्थों द्वारा पोषण पाता है ऐसे ही ढेरों खाद्य पदार्थ हैं जो शरीर में आवश्यक पोषक तत्वों की पूर्ति करते हैं परंतु आयुर्वेद के अनुसार खाद्य पदार्थों को खाने का एक उचित समय होता है। अगर उनका सेवन सही समय पर किया गया तब तो वह फायदेमंद होते हैं परंतु अगर उनका सेवन गलत समय पर किया गया तो वह शरीर को नुकसान पहुंचाने में भी कोई कसर नहीं छोड़ते हैं। आज की कड़ी में हम आपको बताने वाले हैं ऐसे ही कुछ खाद्य पदार्थों के बारे में जो शरीर के लिए बहुत ही आवश्यक होते हैं अगर उन्हें सही समय पर खाया जाए। तो आइए जानते हैं प्रमुख खाद्य पदार्थ और उनको खाने का सही समय और सबसे बुरा समय-

● दूध-

गूगल सर्च

दोस्तों, दूध कैल्शियम विटामिन मिनरल्स का मिलाजुला स्वरूप होता है। इसका सेवन करने का सबसे बेहतर समय रात में होता है और सबसे खराब समय सुबह होता है। क्योंकि अगर आप इसे सुबह ले लेंगे तो इसे पचाने में बहुत दिक्कत आती है।

● चावल-

Third party image reference

दोस्तों, चावल खाने के लिए सबसे अच्छा समय दिन में होता है क्योंकि इसमें कार्बोहाइड्रेट होता है। रात में चावल खाने से पाचन तंत्र संबंधी दिक्कतें आ सकती हैं।

● दही-

Third party image reference

दोस्तों, अगर दही को लंच के साथ खाया जाए तो बहुत ही फायदेमंद साबित होता है परंतु इसे अगर आप रात में खाते हैं तो यह पाचन क्रिया को धीमा कर देता है।

● दाल और सेम-

गूगल सर्च

दोस्तों, दाल और सेम अगर आप रात के समय खाते हैं तो यह फायदेमंद होता है। अगर आप इसे सुबह खा लेते हैं तब या भारीपन कारित करता है।

● चीनी-

Third party image reference

दोस्तों, शुगर अथवा चीनी जितना कम से कम खाया जाए उतना ही सही होता है जिसको खाने का सबसे सही समय तो दिन ही होता है रात के समय से खाया जाएगा तो यह नुकसान देह होता है।

● केला-

Third party image reference

दोस्तों, केले को खाने का सबसे सही समय होता है लंच के बाद क्योंकि केला भारी होता है अगर केले को रात में खाया जाए तो यह नुकसान कर सकता है।

● सेब-

गूगल सर्च

दोस्तों, सेब को सुबह नाश्ते के दौरान खाना बहुत ही अच्छा माना जाता है परंतु अगर इसे रात में खाया जाए तो इसमें मौजूद एसिडिक तत्व पाचन क्रिया में बाधक बन जाते हैं।

नोट- सामान्यतः दोस्तों आयुर्वेद के अनुसार हमें अपना खान- पान सूर्य के अनुसार करना चाहिये, जब वो पीक पर होता है तो हमारी पाचन शक्ति भी मजबूत होती है जो हर आहार पचा देती है वहीं जब सूर्य ढलने लगता है तो पाचन शक्ति भी कमजोर होने लगती है, अतः रात में हल्का व आवश्यक आहार लेना चाहिये।

तो दोस्तों कमेंट में बताएं आपको यह पोस्ट कैसी लगी।

इस पोस्ट को लाइक व शेयर अवश्य करें तथा ऐसी ही पोस्ट पाने के लिए हमें फॉलो करें।

धन्यवाद, आपका शुभ हो!

Post a Comment

0 Comments