Wednesday, August 7, 2019

लेडीज ध्यान दे ! भूल से भी अपने रसोई घर में ना करे ये गलतियां, माँ लक्ष्मी कभी नहीं करती माफ़

किसी भी घर मे रसोईघर का एक अलग ही महत्त्व होता है। या तो आप यूं कह सकते हैं कि एक घर की जान रसोईघर में ही बसती है। ऐसा इसीलिए क्योंकि जो भी कुछ हम खाते हैं वो रसोईघर में ही पकता है और उसका सीधा असर हमारे जीवन और व्यक्तित्व पर पड़ता है क्योंकि हम जैसा भोजन करते हैं उसी के अनुरूप हमारी बुद्धि होती है। दोस्तों, आप सभी ने एक कहावत तो सुनी ही होगी कि जैसा खाएं अन्न वैसा ही बने मन। इसीलिए खाना हमेशा स्वच्छ और अच्छा खाना चाहिए और खाने वाली जगह को हमेशा साफ सुथरा और पवित्र होना चाहिए।

किसी भी घर में रसोईघर घर के स्वास्थ्य और आर्थिक स्तिथि पर बहुत अधिक प्रभाव डालता है। वास्तुशास्त्र के हिसाब से रसोईघर में आपको इन गलतियों की नहीं करना चाहिए नहीं तो आपको अमीर से गरीब बनने में देर नहीं लगेगी। आज हम आप सबको बताने जा रहे हैं कि किचन में कौन कौन सी सावधानियां बरतनी चाहिए।

● कभी कभी आप किचन में कुल्ला और मंजन कर लेते हैं मगर ऐसा करना अशुभ माना जाता है। अगर आप ऐसा करते हैं तो किचन अपवित्र माना जाता है और धन हानि होने की भी शंका बनी रहती है।

● किचन में जब भी खाना बनाने के लिए जाएं तो हमेशा नहा धोकर ही किचन में प्रवेश करें क्योंकि लक्ष्मी जी का आगमन साफ सुथरी जगह पर ही होता है।

● किचन में कभी भी झाड़ू, पोछा और जूते चप्पल नहीं रखना चाहिए, ऐसा करने से अन्नपूर्णा देवी नाराज हो जाती हैं और घर में हमेशा अन्न की कमी रहती हैं।

● किचन के नल से कभी भी पानी नहीं टपकना चाहिए। अगर ऐसा है तो जल्दी से जल्दी उसकी मरम्मत करवा लें क्योंकि अगर किचन के नल से पानी टपकता रहता है तो इससे धन हानि ज़रूर होती है।

● किचन में हमेशा खाना बनाते समय अपना मुंह पूर्व दिशा की ओर ही रखें। पूर्व दिशा वास्तुशास्त्र में सुख, समृद्धि और स्वास्थ्य के लिए सबसे अच्छी मानी जाती है।

● रसोई में उत्तर दिशा की ओर मुंह कर के भी भोजन बनाने से बचना चाहिए, जो लोग ये गलती करता हैं उसके घर में बिजनेस या धन से सम्बंधित हानी होते रहती है ।

● अगर आप किचन में दक्षिण दिशा की ओर मुंह करके भोजन बनाती हैं तो सम्भल जाइये क्योंकि जो स्त्रियां दक्षिण दिशा की ओर मुंह करके भोजन बनाती हैं उनका स्वास्थ्य कभी ठीक नहीं रहता है। स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है।

Previous Post
Next Post
Related Posts

0 Comments:

Hello